नेटेंट जैकपॉट गेम्स

नेटेंट जैकपॉट गेम्स

time:2021-10-21 17:58:27 Inflation: त्योहारी सीजन में कमरतोड़ महंगाई ने इस तरह लोगों का जीना किया है मुश्किल Views:4591

क्रिकेट ऐप डाउनलोड नेटेंट जैकपॉट गेम्स 188bet डोटा २,casumo भुगतान के तरीके,lovebet 0-0 ऑफर,lovebet ई बेटसन,lovebet 7 स्थानों का भुगतान,lovebet.xom,एयू स्पोर्ट्स एचडी,बैकारेट के पास पैसे वापस करने का एक तरीका है,बकारट नौका,न्यूनतम जमा के साथ भारत में सट्टेबाजी की साइटें,कैसीनो के दिन बेवर्टुंग,कैसीनो ज़ी5,अमेज़ॅन आओ,क्रिकेट ऑनलाइन,निर्यात प्रतियोगिता,सबसे तेज़ निकासी सट्टेबाजी नेटवर्क,फुटबॉल सिंगल गेम ऑनलाइन बेटिंग,जीएच स्पोर्ट्स सैन लुइस ओबिस्पो,इंटरनेट से गेम कैसे डाउनलोड करें,आईपीएल यूरिया,जेएन लॉटरी,लाइव कैसीनो कर्मचारी लाभ,लॉटरी 8991,लूडो नियंत्रक,एनएच लॉटरी जीतने वाली संख्या,ऑनलाइन जुआ धोखेबाज,ऑनलाइन पोकर स्लोवेन्सको,पैरिमैच पेटीएम निकासी समय,पोकर - मतलब हिंदी में,विश्वसनीय बैकरेट वेबसाइट अनुशंसा,नियम सिग्मा,रम्मीकल्चर APK,स्लॉट मशीन आरएनजी दरार,स्पोर्ट्स बेटिंग रैंकिंग,स्पोर्ट्सबुक नदियों कैसीनो,टेक्सस होल्डम ज़ाबालिओक,आप कैसीनो ऐप,कहाँ खेलने के लिए baccarat,जेड कैसीनो रेस्टोरेंट,ऑनलाइन जुआ firewall,क्रिकेट quiz,गोवा धमाल,तीन पत्ती क्वीन,बकरा तोतापुरी,बैकरेट का रास्ता,शर्त का अर्थ क्या है, .Inflation: त्योहारी सीजन में कमरतोड़ महंगाई ने इस तरह लोगों का जीना किया है मुश्किल

नई दिल्ली
Festive Season: भारत में इन दिनों त्योहारी सीजन चल रहा है। देश के अधिकतर लोगों के लिए बढ़ती महंगाई की वजह से त्योहारी सीजन में कुछ अतिरिक्त खर्च करना मुश्किल लग रहा है। पिछले कुछ दिनों में पेट्रोल-डीजल-गैस, खाने के तेल के साथ ही प्याज, टमाटर और हरी सब्जियों की महंगाई भी सिर चढ़कर बोल रही है।

ऐसे में आम लोगों को जेब पर नियंत्रण करना पड़ रहा है। कोरोनावायरस संकट के दौर में जहां अधिकतर लोगों की आमदनी घट गई है, वहीं बढ़ते खर्च की वजह से उनके लिए त्यौहार की रौनक फीकी पड़ने की आशंका है।

यह भी पढ़ें: RBI: आपके खाते में पैसे आने के लिए नहीं है OTP की जरूरत, ठगों से बचकर रहने के लिए रिजर्व बैंक ने दी यह सलाह

दिवाली पर खर्च घटाया
महंगाई बढ़ने और आमदनी घटने के बाद लोगों की स्थिति यह हो गई है कि जो लोग पहले दिवाली के मौके पर ड्राई फ्रूट्स के 5 बॉक्स तक खरीद लेते थे वह लोग अब एक डब्बा खरीदने पर विचार कर रहे हैं। इसकी वजह ड्राई फ्रूट की बढ़ती कीमतें और लोगों की घटती आमदनी है। इसके साथ ही बहुत से लोगों ने अब मीट-मछली जैसी चीजों पर खर्च घटा दिया है।

लाखों लोगों पर महंगाई का असर
पहले जहां लोगों के घरों में एक हफ्ते में कई बार नॉनवेज खाना पक जाता था, अब इसे हफ्ते में एक बार के लिए डाल दिया गया है। देश में यह किसी एक घर की दास्तान नहीं है, लाखों लोग इसी तरीके से अपना जीवन यापन कर रहे हैं। दिवाली भारत में हिंदुओं का प्रमुख त्योहार है और इसके पहले लोग अपना बजट घटाने में जुटे हैं। कंज्यूमर गुड्स की शॉपिंग के लिहाज से दिवाली देश का सबसे खास मौका माना जाता है लेकिन इस बार कंज्यूमर गुड्स मार्केट में भी रौनक नहीं है।

बड़ी खरीदारी टाल रहे हैं लोग
बहुत से लोग इस त्योहारी सीजन में टीवी और ज्वेलरी जैसी बिग टिकट खरीदारी को टाल रहे हैं। मुंबई की एक कंसलटेंसी फर्म द्वारा किए गए एक सर्वे में यह जानकारी सामने आई है। भारत की अर्थव्यवस्था कोरोना संकट के बुरे दौर से अब धीरे-धीरे रिकवरी के मूड में है, लेकिन लोगों की घटती आमदनी की वजह से इस रिकवरी पर असर पड़ने की आशंका है।

पेट्रोल-डीजल-गैस के बढ़े भाव
एक साल पहले की तुलना में पेट्रोल और डीजल की कीमत 35 फ़ीसदी तक अधिक है। इसी तरह कुकिंग गैस के भाव में 50 फ़ीसदी से अधिक की वृद्धि हुई है। अर्थशास्त्रियों का कहना है कि इस वजह से देश के तीन चौथाई लोगों पर असर पड़ने की आशंका है। छोटे कारोबारियों का कहना है कि पेट्रोल और कुकिंग गैस के बढ़ते भाव की वजह से उनकी कमाई कोरोनावायरस की तुलना में अभी 30 फ़ीसदी तक कम है, इस वजह से घर चलाना मुश्किल हो रहा है।

यह भी पढ़ें: Petrol Prices: पेट्रोल-डीजल-गैस के भाव में आपको जल्द नहीं मिलने वाली है राहत, IMF के एक्सपर्ट सरकार को क्यों दे रहे हैं ऐसी सलाह

EPF ऑनलाइन कैसे करें ट्रान्सफर

EPFO ने मेंबर इंप्लॉइज को EPF का पैसा ऑनलाइन ट्रांसफर करने की सुविधा उपलब्ध कराई हुई है। यानी बिना कहीं जाए घर बैठे मेंबर इंप्लॉई EPF के पैसे को एक खाते से दूसरे EPF खाते में ट्रांसफर कर सकता है। आज इस वीडियो में जानते हें इसकी पूरी प्रॉसेस...
In Video: EPF ऑनलाइन कैसे करें ट्रान्सफर

टॉपिक

petrol diesel pricescooking gas pricesoaring price of goodsमहंगाई की मारकोरोना संकट में घटी आमदनीत्योहारी सीजन में खरीदारीदिवाली की शॉपिंगdiwali shoppingfestive season sales

ETPrime stories of the day

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read
Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.केंद्रीय कैबिनेट (union cabinet) की आज बैठक हो रही है जिसमें केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (DA) बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। इससे 1 करोड़ से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को फायदा होगा। केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की जा सकती है।मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बृहस्पतिवार को 35 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि की गयी जिसके साथ देश भर में ईंधन की कीमतें रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गयीं। ईंधन की कीमतों में लगातार दूसरे दिन इजाफा किया गया है।सरकारी खुदरा ईंधन विक्रेताओं की मूल्य अधिसूचना के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल की कीमत रिकॉर्ड 106.54 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 112.44 रुपये प्रति लीटर हो गयी।वहीं मुंबई में, डीजल अब 103.26 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है जबकि दिल्ली में इसकी कीमत 95.27 रुपये प्रति लीटर है।कीमतों में बढ़ोतरी का यह लगातार दूसरा दिनRBI: आपके खाते में पैसे आने के लिए नहीं है OTP की जरूरत, ठगों से बचकर रहने की है जरूरत

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
झमाझम बरसात

फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.

188bet लिंक अल्टरनेटिफ २०२०

फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.

लॉटरी यूके

चीन की सबसे बड़ी रियल एस्टेट कंपनियों में से एक Evergrande का संकट गहरा गया है। इसका असर दुनियाभर के बाजारों पर पड़ने की आशंका है। गुरुवार को कपनी के शेयरों में 14 फीसदी गिरावट आई। 17 दिन बाद हॉन्गकॉन्ग में कंपनी के शेयरों की ट्रेडिंग शुरू हुई थी।

क्रिकेट आईपीएल मैच

अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.

क्या ऑनलाइन पैसे का खेल मजेदार है? क्या यह अधिक पेशेवर है?

केंद्रीय कैबिनेट (union cabinet) की आज बैठक हो रही है जिसमें केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (DA) बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। इससे 1 करोड़ से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को फायदा होगा। केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की जा सकती है।

संबंधित जानकारी
ऑनलाइन पोकर केंटकी

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) स्वास्थ्य सेवा उद्योग के शीर्ष अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को देश के लोगों को दिए जा चुके कोविड-19 टीके की खुराक के 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने की सराहना की और इसे ऐतिहासिक क्षण करार दिया। देश में कोविड-19 टीके के प्रमुख प्रदाताओं में से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ अदार पूनावाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विभिन्न मंत्रालयों और स्वास्थ्य कर्मियों को यह उपलब्धि हासिल करने के लिए बधाई दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "श्री नरेंद्र मोदी जी, आपको हार्दिक बधाई देता हूं, क्योंकि भारत आज आपके अनुकरणीय नेतृत्व में कोविड टीकाकरण के

गरम जानकारी
एक्सएफएल स्पोर्ट्सबुक

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) स्वास्थ्य सेवा उद्योग के शीर्ष अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को देश के लोगों को दिए जा चुके कोविड-19 टीके की खुराक के 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने की सराहना की और इसे ऐतिहासिक क्षण करार दिया। देश में कोविड-19 टीके के प्रमुख प्रदाताओं में से एक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के सीईओ अदार पूनावाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विभिन्न मंत्रालयों और स्वास्थ्य कर्मियों को यह उपलब्धि हासिल करने के लिए बधाई दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, "श्री नरेंद्र मोदी जी, आपको हार्दिक बधाई देता हूं, क्योंकि भारत आज आपके अनुकरणीय नेतृत्व में कोविड टीकाकरण के