एनवाई लॉटरी सरकार

एनवाई लॉटरी सरकार

time:2021-10-25 22:37:08 ग्रो ने 1,885 करोड़ रुपये जुटाए Views:4591

टेक्सास होल्डम चिप वितरण एनवाई लॉटरी सरकार 10cric बेटिंग साइट,भारत में उपयोगकर्ताओं को betway,लियोवेगास आईओएस ऐप,lovebet ऐप कैसीनो,lovebet लॉटरी,lovebet सप्ताह 8,एक लॉटरी परिणाम,बैकारेट क्रैकिंग तकनीक,बैकरेट सिमुलेशन गेम डाउनलोड,सट्टेबाजी कैसीनो,कैसीनो 3 डी मॉडल,कैसीनो रोयाले नेटफ्लिक्स,क्लासिक रम्मी,क्रिकेट जीके प्रश्न और उत्तर,डीएच पोकर,यूरोपीय कप सेमीफाइनल सूची,फ़ुटबॉल मुश्किल है या बास्केटबॉल मुश्किल है,उत्पत्ति कैसीनो औज़हलुंग डौएर,एचडी लॉटरी परिणाम,आईपीएल नीलामी 2021 की तारीख,भारत में जैकपॉट लॉटरी,लाइव लाठी ड्यूशलैंड वर्बोटेन,लाइव रूले भविष्यवाणी,लॉटरी सूरज,मल्टीप्लास लवबेट,ऑनलाइन कैसीनो ओहने आइंज़ाहलुंग फ्रीस्पीले,ऑनलाइन पोकर सबसे अच्छा,पी स्लॉट,पोकर रक्षा स्टारक्राफ्ट ब्रूड वॉर,पेशेवर फुटबॉल विश्लेषण नेटवर्क,रॉयल रंबल 2021,रमी ऑनलाइन कैश,कैसीनो में स्लॉट मशीन,स्लॉट सिय्योन,स्पोर्ट्सबुक एरिया,टेक्सास होल्डम चिप्स,खेल केंद्र,यूरोपीय फ़ुटबॉल में कौन से मैच होते हैं,विश्व गेमिंग निगम,इलेक्ट्रॉनिक खेल doc,कैसीनो के खेल in english,गेमिंग बुल,जोकर रिमिक्स,फुटबॉल निबंध मराठी,बेटा टेस्टिंग,लॉटरी ऐप,स्पोर्ट्स तक .ग्रो ने 1,885 करोड़ रुपये जुटाए

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) डिजिटल फर्म ग्रो ने सोमवार को कहा कि उसने आइकोनिक ग्रोथ की अगुवाई में वित्त पोषण के ताजा दौर में 25.1 करोड़ डॉलर (करीब 1,885 करोड़ रुपये) जुटाए हैं, और इस दौरान कंपनी का मूल्यांकन तीन अरब डॉलर था।

कंपनी ने बताया कि ‘ई’ श्रृंखला के वित्तपोषण दौर में एल्केन, लोन पाइन कैपिटल और स्टीडफास्ट जैसे निवेशकों ने भी भाग लिया। ग्रो के मौजूदा निवेशक सिकोया कैपिटल, रिबिट कैपिटल, वाईसी कॉन्टिन्यूटी, टाइगर ग्लोबल और प्रोपेल वेंचर भी वित्तपोषण के ताजा दौर में शामिल हुए।

आइकनिक ग्रोथ के पार्टनर यूंकी सुल ने कहा, ‘‘भारत में वित्तीय सेवा बाजार पहले ही काफी बड़ा है, तेजी से बढ़ रहा है, और किसी बाधा का सामना करने के लिए परिपक्व है। पिछले कुछ वर्षों के दौरान ग्रो ने साबित किया है कि वह अवसर को हासिल करने के लिए तैयार हैं। हम भारतीय उपभोक्ताओं के लिए प्राथमिक वित्तीय मंच बनने के कंपनी के दृष्टिकोण में शामिल होने के लिए उत्साहित हैं।’’

ग्रो खुदरा निवेशकों को सीधे म्यूचुअल फंड, शेयर, ईटीएफ और आईपीओ में निवेश करने की सुविधा देती है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read

इंदौर, 25 अक्टूबर (भाषा) खाद्य तेल बाजार में सोमवार को सोयाबीन रिफाइंड के भाव में 10 रुपये प्रति 10 किलोग्राम की कमी शनिवार की तुलना में हुई। आज सरसों 200 रुपये प्रति क्विंटल महंगी बिकी।तिलहनसरसों (निमाड़ी) 7800 से 8000 रुपये प्रति क्विंटल।तेल मूंगफली तेल इंदौर 1460 से 1480,सोयाबीन रिफाइंड इंदौर 1285 से 1290,सोयाबीन साल्वेंट 1235 से 1240,पाम तेल 1280 से 1285 रुपये प्रति 10 किलोग्राम।कपास्या खलीकपास्या खली इंदौर 1950,कपास्या खली देवास 1950, कपास्या खली उज्जैन 1950,कपास्या खली खंडवा 1900,कपास्या खली बुरहानपुर 1900 रुपये प्रति 60 किलोग्राम बोरी।कपास्या खली अकोला 2550 रुपये प्रति क्विंटल।सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.हाजिर मांग से चांदी वायदा कीमतों में तेजी

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के बीच सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे स्थानीय वायदा बाजार में सोमवार को सोने का भाव 228 रुपये बढ़कर 48,025 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में दिसंबर महीने की डिलिवरी के लिये सोने की कीमत 228 रुपये यानी 0.48 प्रतिशत बढ़कर 48,025 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 11,327 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करने से सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोने की कीमत 0.28 प्रतिशत की तेजीग्रो ने 1,885 करोड़ रुपये जुटाए

अगर आप बड़ी तस्वीर के हिसाब से देखें तो पिछले साल की गई छंटनी के हिसाब से इस साल जॉब के मौके में 50 फ़ीसदी तक की वृद्धि दर्ज की गई है।महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स सहित सात कंपनियों को सेबी से आईपीओ के लिए मंजूरी

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लॉटरी व्हाट्सएप ग्रुप लिंक

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.

बेटा ऑल सॉन्ग

डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.

लियोवेगास कुंदत्जंस्ती

नयी दिल्ली 25 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को कच्चे तेल की कीमत 76 रुपये की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 76 रुपये अथवा 1.21 प्रतिशत की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई जिसमें 7,948 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने के कारण वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में तेजी आई।

पोकर 007 हीडलबर्ग

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.

फुटबॉल लॉटरी yok

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

संबंधित जानकारी
बागी ३ लवबेट

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स इंडिया और आनंद राठी वेल्थ सहित सात कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये पूंजी जुटाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा पॉलिसीबाजार और पैसाबाजार जैसी डिजिटल कंपनियों का संचालन करने वाली पीबी फिनटेक, पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कॉम्युनिकेशंस, जीव विज्ञान कंपनी टार्सन प्रोडक्ट्स और एचपी एडहेसिव्स को भी अपने आईपीओ लाने के लिए सेबी की मंजूरी मिली है।सेबी ने सोमवार को बताया कि इन कंपनियों ने जुलाई और अगस्त के बीच उसके पास अपने मसौदा पत्र दाखिल किए थे। उन्हें 18-22

गरम जानकारी
बैकारेट पर बेट लगाने का सबसे अच्छा तरीका क्या है? मैं कहां पता लगा सकता हूं?

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स इंडिया और आनंद राठी वेल्थ सहित सात कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये पूंजी जुटाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा पॉलिसीबाजार और पैसाबाजार जैसी डिजिटल कंपनियों का संचालन करने वाली पीबी फिनटेक, पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कॉम्युनिकेशंस, जीव विज्ञान कंपनी टार्सन प्रोडक्ट्स और एचपी एडहेसिव्स को भी अपने आईपीओ लाने के लिए सेबी की मंजूरी मिली है।सेबी ने सोमवार को बताया कि इन कंपनियों ने जुलाई और अगस्त के बीच उसके पास अपने मसौदा पत्र दाखिल किए थे। उन्हें 18-22

खुश किसान पीएनजी

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स इंडिया और आनंद राठी वेल्थ सहित सात कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये पूंजी जुटाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा पॉलिसीबाजार और पैसाबाजार जैसी डिजिटल कंपनियों का संचालन करने वाली पीबी फिनटेक, पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कॉम्युनिकेशंस, जीव विज्ञान कंपनी टार्सन प्रोडक्ट्स और एचपी एडहेसिव्स को भी अपने आईपीओ लाने के लिए सेबी की मंजूरी मिली है।सेबी ने सोमवार को बताया कि इन कंपनियों ने जुलाई और अगस्त के बीच उसके पास अपने मसौदा पत्र दाखिल किए थे। उन्हें 18-22

बेटा सरवन पानी तो पिला दे

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स इंडिया और आनंद राठी वेल्थ सहित सात कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये पूंजी जुटाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा पॉलिसीबाजार और पैसाबाजार जैसी डिजिटल कंपनियों का संचालन करने वाली पीबी फिनटेक, पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कॉम्युनिकेशंस, जीव विज्ञान कंपनी टार्सन प्रोडक्ट्स और एचपी एडहेसिव्स को भी अपने आईपीओ लाने के लिए सेबी की मंजूरी मिली है।सेबी ने सोमवार को बताया कि इन कंपनियों ने जुलाई और अगस्त के बीच उसके पास अपने मसौदा पत्र दाखिल किए थे। उन्हें 18-22