जैकपॉट पूरी फिल्म डाउनलोड फिल्मीज़िला

जैकपॉट पूरी फिल्म डाउनलोड फिल्मीज़िला

time:2021-10-25 21:44:47 वित्तीय लक्ष्‍यों तक जल्दी पहुंचने के लिए इक्विटी या डेट फंड में से किसमें निवेश करें? Views:4591

नवीनतम फ़ुटबॉल लाभ विधि जैकपॉट पूरी फिल्म डाउनलोड फिल्मीज़िला betway डाउनलोड,fun88 ऑनलाइन,lovebet 49 एस,lovebet होम,lovebet टैंग 88k,२२ बेट प्रथम जमा बोनस,बैकरेट विश्लेषण,बैकरेट ऑनलाइन मनोरंजन,सबसे अच्छा मोबाइल रम्मी गेम,मेरे शो क्रिकेट मैच के टिकट बुक करें,कैसीनो नोकके,शतरंज और ताश के खेल जो पैसे के बदले बदले जा सकते हैं,क्रिकेट बुक फिक्शन,क्रिकेट एक्सबॉक्स,यूरोपीय सट्टेबाज ओलंपिक,फुटबॉल सट्टेबाजी खाता खोलने के नियम,जी फुटबॉल खिलाड़ी,खुश किसान खेल डाउनलोड,मैं शतरंज का जाल,जे स्पोर्ट्स चिकित्सक एवं शारीरिक तंदुरुस्ती,ला क्रिकेट टीम,लाइव कैसीनो वेस्टमोरलैंड मॉल,लॉटरी खबरी,लूडो यार्स गेम डाउनलोड,ऑनलाइन नकद लड़ाई मकान मालिक,ऑनलाइन गेम क्विप्लाश,ऑनलाइन स्लॉट जैकपॉट,रम्मी 500 . में बिंदु मान,पोकर वार्म अप,रूले गीत mgk,रम्मी सिटी,रम्मीकल्चर जूम,स्लॉट आदिएच बैकप्लेन,स्पोर्ट्स ओ राम सेंट थॉमस,तीन पत्ती फिल्म,सबसे बड़ी जुआ कंपनी,वर्चुअल क्रिकेट बार लंदन,वाइल्डज़ कैसीनो लॉगिन,HAB Aइलेक्ट्रोनिक,करीना टिकटोक,क्रिकेट या खेळाचे नियम मराठी,छत्तीसगढ़ चेस एसोसिएशन,पलटें,बरसात भी आकर चली गई डीजे सॉन्ग,रमी माहिती,स्टेटस देखना है, .वित्तीय लक्ष्‍यों तक जल्दी पहुंचने के लिए इक्विटी या डेट फंड में से किसमें निवेश करें?

आप जो एसेट क्‍लास चुनते हैं, वह उस लक्ष्‍य पर निर्भर करता है जिसके लिए आप निवेश कर रहे हैं.
वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अपनी बचत को सही एसेट क्लास में निवेश करना जरूरी है. इन लक्ष्‍यों में बच्‍चों की शिक्षा, घर खरीदना, रिटायरमेंट इत्‍यादि शामिल हैं. लंबी अवधि में एसेट बनाने में दो एसेट क्‍लास - इक्विटी और डेट अहम भूमिका निभाते हैं. हालांकि, आप पूछें कि अपने लक्ष्‍यों को जल्‍दी से पाने के लिए इक्विटी और डेट फंड में से बेहतर कौन है तो जवाब शायद आसान नहीं होगा. सच तो यह है कि इन दोनों का कॉम्बिनेशन और सही इस्तेमाल लक्ष्‍यों को पाने में मदद करेगा.

आप जो एसेट क्‍लास चुनते हैं, वह उस लक्ष्‍य पर निर्भर करता है जिसके लिए आप निवेश कर रहे हैं. यह फैसला आपकी उम्र, जोखिम लेने की क्षमता और बाजार की स्थितियों से भी तय होता है.

इसे भी पढ़ें : बुजुर्गों को मिले ज्‍यादा ब्‍याज, एससीएसएस की लिमिट बढ़ाकर ₹50 लाख की जाए

अगर आप युवा (20 के पड़ाव में) हैं और रिटायरमेंट के लिए बचत शुरू करना चाहते हैं तो आपका निवेश इक्विटी म्‍यूचुअल फंड में ज्‍यादा होना चाहिए. इक्विटी म्‍यूचुअल फंड अपने एसेट का 65 फीसदी इक्विटी या अन्‍य संबंधित प्रतिभूतियों में निवेश करते हैं. लंबी अवधि में इक्विटी में अन्‍य एसेट क्‍लास के मुकाबले बेहतर रिटर्न पैदा करने की क्षमता होती है. साथ ही जब आप लंबी अवधि जैसे 10 साल या इससे ज्‍यादा के लिए इक्विटी में निवेश करते हैं तो अस्थिरता को जोखिम भी घटता है. ऐसे में 20 के पड़ाव में जो लोग हैं, उन्‍हें अपनी बचत का 80 फीसदी इक्विटी फंड में सिप के जरिये निवेश करना चाहिए अगर वे अपने रिटायरमेंट के लिए बचत कर रहे हैं.

लेकिन, आप 50 के पड़ाव में हैं और रिटायरमेंट के लिए बचत कर रहे हैं तो आप इक्विटी में इतना भारी-भरकम निवेश नहीं कर सकते हैं. उस स्थिति में कोई अपनी बचत का 25 फीसदी से 40 फीसदी इक्विटी में निवेश कर सकता है. यह उनकी जोखिम लेने की क्षमता पर निर्भर करता है.

रिटायरमेंट के बाद भी इक्विटी म्‍यूचुअल फंडों में कुछ पैसा लगाए रहना चाहिए. यह महंगाई के असर को कम करता है. चूंकि एफडी और डेट प्रोडक्‍टों पर मौजूदा कम ब्‍याज दर के माहौल में रिटर्न घटा है. ऐसे में इक्विटी का कुछ निवेश इसकी भरपाई कर सकता है.

इसे भी पढ़ें : यूलिप और म्यूचुअल फंड में इन 5 बड़े अंतरों को जान लें, होगा फायदा

अगर आइडिया पूंजी की सुरक्षा है न कि ज्‍यादा रिटर्न तो डेट फंड सही विकल्‍प हैं. डेट फंडों में अस्थिरता कम होती है. हालांकि, रिटर्न कम होता है. डेट फंड कैटेगरी के भीतर भी अलग-अलग अस्थिरता और रिस्‍क प्रोफाइल वाले फंड होते हैं. लॉन्‍ग टर्म डेट फंड मुख्‍य रूप से लंबी अवधि के सरकारी बॉन्‍डों में निवेश करते हैं. कॉरपोरेट बॉन्ड फंड अर्थव्यवस्था में ब्‍याज दर के फ्लक्‍चुएशन को लेकर बहुत संवेदनशील होते हैं.

हालांकि, शॉर्ट-टर्म डेट फंड ब्‍याज दर के फ्लक्चुएशन को लेकर कम संवेदनशील होते हैं. कारण है कि ये छोटी अवधि के डेट इंस्‍ट्रूमेंट जैसे ट्रेजरी बिल, कमर्शियल पेपर इत्यादि में निवेश करते हैं. इस तरह के फंड उन लक्ष्‍यों के लिए मुफीद होते हैं जो एक से तीन साल दूर हैं. वहीं, इमर्जेंसी फंड बनाने जैसे बहुत छोटी अवधि के लक्ष्‍यों के लिए लिक्विड फंड या ओवरनाइट फंड उपयुक्‍त विकल्‍प हैं.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

डेट फंडइक्विटी फंडरिटायरमेंटएसेट क्‍लासवित्‍तीय लक्ष्‍य

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read

2020 के पहले छह महीनों में केपजेमिनी ने 9,500 लोगों की भर्ती की है. सेकेंड हाफ में उसकी 13,500 लोगों को रिक्रूट करने की योजना है.एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.वित्तीय लक्ष्‍यों तक जल्दी पहुंचने के लिए इक्विटी या डेट फंड में से किसमें निवेश करें?

वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.प्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन की सभी स्कीमों से निकलने की दी सलाह

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.फ्रैंकलिन टेम्पलटन एमएफ से आपको अपना निवेश कब निकालना चाहिए?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
पोकी पर ऑनलाइन गेम

रिपोर्ट में कहा गया है कि अनलॉक उपायों के बाद आवाजाही में सुधार से रियल एस्टेट क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियां 44 फीसदी सुधरी हैं.

बैकारेट के लिए एक अच्छा मंच

भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.

casumo संपर्क

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.

खेल लॉटरी नागिन

शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.

कर्षण कैसीनो दिन

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी