आईपीएल की तारीख

आईपीएल की तारीख

time:2021-10-25 22:34:09 भारत में सड़क दुर्घटनाओं की सामाजिक-आर्थिक कीमत 15.71-38.81 अरब डॉलर: बॉश Views:4591

ऑस्लॉट्स आईपीएल की तारीख betway केन्या जैकपॉट,fun88eu,lovebet 6446,lovebet जमी फोरम,lovebet टीवी,365 गेमिंग फोरम,बैकारेट बेटिंग फॉर्मूला,बैकारेट प्रोफेशनल प्ले,आईसीएसई कक्षा 10 . के लिए पांच नियमों का सर्वोत्तम नियम,क्या विदेशी फ़ुटबॉल जीत पर दांव लगाया जा सकता है,कैसीनो नियाग्रा,शतरंज ऊ,क्रिकेट पहेली किताब,डी कैसीनो मालिक,यूरोपीय कप फुटबॉल मैच के नियम,फुटबॉल कॉर्नर किक,जुआ मशीन,खुश किसान पीएनजी,इंडियाबेट हेल्पलाइन नंबर,जैकपॉट ड्राइंग,नवीनतम फुटबॉल सट्टेबाजी,लाइव रूले ऐप,लॉटरी रात परिणाम,m.lovebet मोबाइल जीआर,असली पैसे के लिए ऑनलाइन कैसीनो,ऑनलाइन गेम जोन,ऑनलाइन स्लॉट रियल मनी दक्षिण अफ्रीका,पोकर 63,पोकरदार यू,रूले टेबल लेआउट,रमी जैक,सबा वेबसाइट,स्लॉट्स एन बेट्स बोनस कोड,खेल तक,तीन पत्ती एक,सबसे सटीक Wynn उच्च स्कोर,आभासी क्रिकेट सिम्युलेटर लंदन,विलियम हिल स्टैंडबाय,star sports वन हिंदी लाइव,केरल लॉटरी रिजल्ट,खेल लॉटरी matka2,जोक हिंदी,पोकर फन,बेटा अब्दुल जरा बताओ,रेट्रो गार्डन,स्टेटस यूट्यूब, .भारत में सड़क दुर्घटनाओं की सामाजिक-आर्थिक कीमत 15.71-38.81 अरब डॉलर: बॉश

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) वाहन कलपुर्जे बनाने वाली प्रमुख कंपनी बॉश द्वारा कराए गए एक अध्ययन के मुताबिक भारत में सड़क दुर्घटनाओं के चलते होने वाले कुल सामाजिक-आर्थिक नुकसान की राशि 15.71 से 38.81 अरब अमेरिकी डॉलर के बीच आंकी गई है।

बॉश इंडिया के उन्नत स्वायत्त सुरक्षा प्रणाली एवं कॉरपोरेट शोध विभाग के दुर्घटना शोध दल ने इस निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए पिछले दो दशक में दुनिया भर में हुई सड़क दुर्घटनाओं के आंकड़ों का अध्ययन और विश्लेषण किया।

इन नतीजों का इस्तेमाल नए उत्पादों की पेशकश करने, व्यावसायिक रणनीतियां बनाने और सड़क सुरक्षा नीतियों के लिए किया जा सकता है।

अध्ययन से पता चला, ‘‘भारत में सड़क दुर्घटनाओं के कारण कुल सामाजिक-आर्थिक नुकसान 15.71-38.81 अरब अमेरिकी डॉलर होने का अनुमान है, जो देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 0.55-1.35 प्रतिशत है।’’

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read

अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने सोमवार को कहा कि विशेष इस्पात के लिए पीएलआई योजना के तहत निवेश करने की इच्छुक कंपनियों की चिंताओं के समाधान के लिए सचिवों के अधिकार प्राप्त समूह (ईजीएस) की बैठक बुलाई जाएगी। सिंह ने उद्योग मंडल फिक्की द्वारा यहां ‘विशेष इस्पात के लिए पीएलआई योजना’ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में उक्त बात कही। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ लेने वाली कंपनियों से नवंबर के दूसरे सप्ताह से आवेदन मांगे जाएंगे। सिंह ने बैठक के लिए कोई समयसीमा बताए बिना कहा कि अगर किसी हितधारक कीनेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने सोमवार को कहा कि आयकर विभाग ने नासिक के एक भूमि काराबोरी के यहां 21 अक्टूबर को की गई छापेमारी के बाद 23.45 करोड़ रुपये की बिना हिसाब की नकदी जब्त की है और 100 करोड़ रुपये की काली कमाई का पता लगाया है। सीबीडीटी ने एक बयान में कहा, ‘‘जिन मुख्य व्यक्तियों ने अपनी बिना हिसाब की आय का भूमि के बड़े हिस्से की खरीद में निवेश किया था, उनके यहां भी तलाशी ली गई।’’ इसने कहा, ‘‘इनमें से अधिकतर व्यक्ति महाराष्ट्र के पिंपलगांव बसवंत क्षेत्र में प्याज औरअगर आपके पास ये स्किल्‍स हैं तो नौकरी की नहीं है कमी

नयी दिल्ली 25 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को कच्चे तेल की कीमत 76 रुपये की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 76 रुपये अथवा 1.21 प्रतिशत की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई जिसमें 7,948 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने के कारण वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में तेजी आई।पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.इस साल 7.7% होगा औसत इंक्रीमेंट, जानिए किस सेक्‍टर में सबसे ज्‍यादा बढ़ेगी सैलरी

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
खेल अशोक नगर

आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.

betway यूके

डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.

ऑनलाइन कैसीनो zdarma

अगर आप बड़ी तस्वीर के हिसाब से देखें तो पिछले साल की गई छंटनी के हिसाब से इस साल जॉब के मौके में 50 फ़ीसदी तक की वृद्धि दर्ज की गई है।

री फुटबॉल

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.

lovebetम-पेसा

नयी दिल्ली 25 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को कच्चे तेल की कीमत 76 रुपये की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 76 रुपये अथवा 1.21 प्रतिशत की तेजी के साथ 6,359 रुपये प्रति बैरल हो गई जिसमें 7,948 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने के कारण वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में तेजी आई।

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
3 रील स्लॉट मुफ्त में कोई डाउनलोड नहीं पंजीकरण नहीं

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक सेबी ने ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक, सफायर फूड्स इंडिया और आनंद राठी वेल्थ सहित सात कंपनियों को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये पूंजी जुटाने की मंजूरी दे दी है। इसके अलावा पॉलिसीबाजार और पैसाबाजार जैसी डिजिटल कंपनियों का संचालन करने वाली पीबी फिनटेक, पेटीएम की मूल कंपनी वन97 कॉम्युनिकेशंस, जीव विज्ञान कंपनी टार्सन प्रोडक्ट्स और एचपी एडहेसिव्स को भी अपने आईपीओ लाने के लिए सेबी की मंजूरी मिली है।सेबी ने सोमवार को बताया कि इन कंपनियों ने जुलाई और अगस्त के बीच उसके पास अपने मसौदा पत्र दाखिल किए थे। उन्हें 18-22