लियोवेगास विकी

लियोवेगास विकी

time:2021-10-25 22:06:19 इंदौर में शक्कर, खोपरा गोला में मांग बढ़िया Views:4591

सी कैसीनो ऑनलाइन लियोवेगास विकी 10cric मीडिया,casumo कस्टमर केयर नंबर,लीवगैस भुगतान समय,lovebet बोला जूडि,lovebet देशी th.apk,lovebet वार्षिक आय,ऐ बैकारेटो,बैकरेट अनुभव,बैकरेट ट्रैकर,बेटिंग आईडी हैकर,कैसीनो एक मोनाको,कैसीनो टी डबलाजो,क्लासिक रम्मी ऑनलाइन डाउनलोड,क्रिकेट परिचय,ई क्रिकेट लीग,यूरोपीय फुटबॉल मैच का समय,फुटबॉल मोबाइल वेबसाइट,उत्पत्ति कैसीनो लोगो,बैकारेट किस तरह से देखता है,यूएई में आईपीएल,जैकपॉट कौशल खेल नया महल पा,लाइव लाठी ऑनलाइन असली पैसा,लाइव तीन पत्ती,लॉटरी की दुनिया नकली या असली,नायब शतरंज,ऑनलाइन कैसीनो टिप्स,ऑनलाइन पोकर हांगकांग,पैरिमैच यूरो 2020,पोकर खेल नियम,आर/chessbae94,भीड़ द्वारा शासन,रम्मी ट्रे,स्लॉट मशीन हैक एंड्रॉइड एपीके,खेल 2021,स्पोर्ट्सबुक गोल्फ,टेक्सास होल्डम का आविष्कार किया,शीर्ष 10 यूरोपीय गेमिंग कंपनियां,बैकारेट में औसत बैंक-से-खिलाड़ी अनुपात क्या है?,एक्स स्पोर्ट्स,इलेक्ट्रॉनिक खेल word,कोरोना वायरस,गोवा और चिड़िया,टेक्सास होल्डम कहां से खरीदें?,फुटबॉल लॉटरी kha,बेटा भोजपुरी गाना,लॉटरी जानकारी,स्पोर्ट्स स्कूल राई .इंदौर में शक्कर, खोपरा गोला में मांग बढ़िया

इंदौर, 25 अक्टूबर (भाषा) स्थानीय सियागंज किराना बाजार में सोमवार को शक्कर एवं खोपरा गोला में मांग शनिवार की तुलना में बढ़िया रही।

कारोबारी सूत्रों के मुताबिक शक्कर में 14 गाड़ी की आवक हुई।

शक्कर- गुड़

शक्कर 3720 से 3760, शक्कर (एम) 3800 से 3825 रुपये प्रति क्विंटल।

गुड़ भेली 3600 से 3650, गुड़ कटोरा 3800 से 3850, गुड़ लड्डू 4000 से 4050, गुड़ मालवी 3900 से 3950 रुपये प्रति क्विंटल।

खोपरा गोला

खोपरा गोला 210 से 230 रुपये प्रति किलोग्राम।

खोपरा बूरा 2650 से 3700 रुपये प्रति 15 किलोग्राम।

हल्दी

हल्दी (खड़ी) सांगली 159 से 160, हल्दी (खड़ी) निजामाबाद 110 से 130, पिसी हल्दी 165 से 185 रुपये प्रति किलोग्राम।

साबूदाना

साबूदाना 4400 से 5200, पैकिंग में 5600 से 5700 रुपये प्रति क्विंटल।

आटा-मैदा

गेहूं आटा 1230, मैदा 1260, रवा 1330, चना बेसन 3550 से 3600 रुपये प्रति 50 किलोग्राम।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Recent hit

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.
Electric vehicles

Can Hero Electric keep going as Ather, Ola rev up e-scooters? One puzzle Naveen Munjal is solving.

11 mins read
Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed
Environment

Survival of the richest: why investment in conservation is horribly skewed

6 mins read

विशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता हैईटीएफ नए निवेशकों के लिए अच्‍छा विकल्‍प है. इसके लिए डीमैट अकाउंट की जरूरत होगी.कैसा है एलएंडटी टैक्‍स एडवांटेज म्‍यूचुअल फंड का 5 साल का रिपोर्ट कार्ड?

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) आदित्य बिड़ला सन लाइफ एएमसी ने सोमवार को बताया कि वित्त वर्ष 2021-22 की सितंबर तिमाही के दौरान उसका मुनाफा 38 प्रतिशत बढ़कर 173.1 करोड़ रुपये हो गया। एक साल पहले इसी अवधि में कंपनी ने 125.4 करोड़ रुपये का लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को दी सूचना में कंपनी ने कहा कि समीक्षाधीन अवधि में उसकी कुल आय 28 प्रतिशत बढ़कर 372.2 करोड़ रुपये हो गई, जो सितंबर, 2020 तिमाही में 291 करोड़ रुपये थी। कंपनी ने 2021-22 के लिए 5.60 रुपये प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश देने की घोषणा की है। कंपनीबेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

मुंबई, 25 अक्टूबर (भाषा) भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 9.5 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। बीते वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। स्विस ब्रोकरेज कंपनी यूबीएस सिक्योरिटीज इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था और रफ्तार पकड़ेगी। हालांकि, अगले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर घटकर 7.7 प्रतिशत रहेगी। सरकार ने बजट में चालू वित्त वर्ष में अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमानअपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
जिन रम्मी क्लासिक फ्री गेम

एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.

सट्टेबाजी और सट्टेबाजी पंजीकरण

एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.

गोवा धर्म

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.

रम्मीकल्चर अभ्यास

बेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.

परिमच साइन इन

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) भारती एयरटेल ने सरकार को सूचित किया है कि वह समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) भुगतान और स्पेक्ट्रम बकाया के लिये मिली मोहलत का लाभ उठाएगी। एक सूत्र ने यह जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि सरकार ने दूरसंचार क्षेत्र के लिये हाल में घोषित राहत पैकेज के तहत बकाये के भुगतान को लेकर चार साल के लिये मोहलत का विकल्प दिया है। एयरटेल ने शुक्रवार को निर्णय के बारे में दूरसंचार विभाग को सूचना दी। कंपनी ने सरकार से कहा कि वह एनएआई (नोटिस इनवाइटिंग एप्लिकेशन) नियमों के तहत एजीआर और स्पेक्ट्रम बकाया पर दी गयी मोहलत

संबंधित जानकारी
पोकर वाई अजेड्रेज़

मुंबई, 25 अक्टूबर (भाषा) भारतीय अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष 2021-22 में 9.5 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी की रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। बीते वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। स्विस ब्रोकरेज कंपनी यूबीएस सिक्योरिटीज इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था और रफ्तार पकड़ेगी। हालांकि, अगले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर घटकर 7.7 प्रतिशत रहेगी। सरकार ने बजट में चालू वित्त वर्ष में अर्थव्यवस्था में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान

lovebet यूके साइन अप ऑफर

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) दवा मूल्य नियामक राष्ट्रीय औषध मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने सोमवार को कहा कि उसने ग्लिमेपाइराइड टैबलेट, ग्लूकोज इंजेक्शन और इंटरमीडिएट एक्टिंग इंसुलिन सॉल्यूशन सहित 12 मधुमेह रोधी जेनेरिक दवाओं के लिए अधिकतम कीमतें तय कर दी हैं। दवा मूल्य नियामक ने ट्विटर पर लिखा, "हर भारतीय के लिए मधुमेह जैसी बीमारियों के खिलाफ चिकित्सा उपचार को संभव बनाने के लिए एनपीपीए ने 12 मधुमेह रोधक जेनेरिक दवाओं की अधिकतम कीमतें तय करके एक सफल कदम उठाया है।" इन दवाओं में एक मिलीग्राम की ग्लिमेपाइराइड टैबलेट शामिल है, जिसकी अधिकतम कीमत 3.6 रुपये प्रति टैबलेट है,

गरम जानकारी
क्रिकेट की किताब हिंदी

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार की शुरुआत की। इससे देश में बिजली कारोबार की स्थिति और मजबूत होगी।‘ग्रीन डे अहेड मार्केट’ (जीडीएएम) यानी एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार से नवीकरणीय ऊर्जा के लिये बाजार को मजबूती मिलेगी। इससे प्रतिस्पर्धी कीमत के संकेत मिलेंगे। साथ ही बाजार प्रतिभागियों को पारदर्शी, प्रतिस्पर्धी और कुशल तरीके से हरित ऊर्जा में कारोबार का अवसर मिलेगा। सिंह ने कहा, ‘‘हम नवीकरणीय ऊर्जा के लिये नये द्वार खोल रहे हैं। आज पेश

आभासी क्रिकेट ऑनलाइन

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय बिजली मंत्री आर के सिंह ने सोमवार को एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार की शुरुआत की। इससे देश में बिजली कारोबार की स्थिति और मजबूत होगी।‘ग्रीन डे अहेड मार्केट’ (जीडीएएम) यानी एक दिन पहले किये जाने वाले हरित बिजली कारोबार बाजार से नवीकरणीय ऊर्जा के लिये बाजार को मजबूती मिलेगी। इससे प्रतिस्पर्धी कीमत के संकेत मिलेंगे। साथ ही बाजार प्रतिभागियों को पारदर्शी, प्रतिस्पर्धी और कुशल तरीके से हरित ऊर्जा में कारोबार का अवसर मिलेगा। सिंह ने कहा, ‘‘हम नवीकरणीय ऊर्जा के लिये नये द्वार खोल रहे हैं। आज पेश